इस भूल का फायदा उठा शराबी ने छात्रा को अगवा कर छेड़ा, बोला-छोटे कपड़ों में थी लड़की

Crime Helpline : Noida Big Crime

देश की राजधानी दिल्ली से सटे हाईटेक शहर नोएडा (Noida) में एक सिरफिरे शराब के नशे में धुत युवक ने भांग खाकर कार समेत एक लड़की को अगवा कर लिया। लड़की एक यूनिवर्सिटी की छात्रा है। आरोपी सिरफिरे ने उस लड़की को अगवा करने के बाद रास्ते में खूब पीटा जिससे वह सहम गई। इसके बाद युवक ने उसके साथ अश्लील हरकत की। इसकी सूचना मिलने पर पुलिस ने अगवा की हुई लड़की की कार को पहचान कर पीछा शुरू किया।

जिसके करीब आधे घंटे तक भागदौड़ के बाद पुलिस ने आरोपी को दबोच लिया और लड़की को बड़ी घटना होने से पहले बचा लिया। अब लड़की बुरी तरह से सदमे में है। किसी से बात भी नहीं कर रही है। इस पूरे मामले में नोएडा के दो सब इंस्पेक्टर अनूप यादव और गुरविंदर सिंह की सराहनीय भूमिका रही जिसकी बदलौत लड़की को दूसरी जिंदगी मिली।

कार से घूमने के दौरान दोस्त खाना लाने चले गए, लड़की अकेली स्टार्ट कार में थी, गेट भी खुले थे

पीड़ित युवती नोएडा की एक जानी-मानी यूनिवर्सिटी में पढ़ती है। वह सेक्टर-44 में रहती है। 5 मई की शाम को वह दोस्तों के साथ आई-10 कार से घूमने निकली थी। दोस्तों के साथ घूमते हुए सभी नोएडा के सेक्टर-127 में पहुंचे और वहां पर खाना लेने चले गए। उस समय युवती अकेले कार में ड्राइविंग सीट के पास बैठी थी। कार स्टार्ट ही थी और गेट लॉक भी नहीं थे। उसी समय कार में युवती को अकेली देखकर नशे में धुत युवक तुरंत कार में बैठ गया और अगवा करके एक्सप्रेसवे की तरफ भाग निकला। युवती ने विरोध जताने की कोशिश की तो सिरफिरे युवक ने उसकी पिटाई की जिससे वह बुरी तरह सहम गई।

सिरफिरा बोला : नशे में धुत था, लड़की को कम कपड़ों में देखा और कार लॉक भी नहीं थी तो कर दिया क्राइम

पकड़ा गया साइको सिरफिरा आशु (26) सेक्टर-127 के कार सर्विस सेंटर में गाड़ियों की सफाई का काम करता है। 5 मई की रात में वह उसी जगह के पास शराब पीने के बाद भांग खाकर नशे में घूम रहा था। उसी समय उसने कार में से कुछ लड़कों को बाहर जाते देख लिया था। यह भी देखा कि कार के गेट लॉक नहीं हैं और कार भी स्टार्ट है। पकड़े जाने के बाद उसने पुलिस को बताया कि कार में अकेले बैठी लड़की कम कपड़ों में थी। जिसे देखने और कार के लॉक नहीं होने से मन में अचानक क्राइम करने की बात आ गई। इसीलिए उसने तुरंत कार में ही लड़की को अगवा कर लिया। यह घटना रात में करीब 10 बजे की है।

नोएडा एक्सप्रेसवे की सर्विस रोड पर कार रोककर सिरफिरे ने युवती को पीटा और फिर छेड़छाड़ भी की

रास्ते में भागते समय आरोपी आशु ने एक्सप्रेसवे से कार को सर्विस रोड पर लाकर सुनसान स्थान पर रोक दिया। इसके बाद लड़की को कई थप्पड़ मारे जिससे लड़की रोने लगी। इस पर उसे मारने की धमकी देकर चुप करा दिया और फिर डरकर विरोध भी नहीं कर पा रही थी। इसके बाद युवक ने उसके साथ छेड़छाड़ की और अश्लील हरकत की। उस दौरान रास्ते से कई गाड़ियां आने लगीं तो आरोपी तुरंत कार लेकर फिर पंचशील अंडरपास की तरफ जाने लगा।

आरोपी युवक आशु और इसे पकड़ने वाले दोनों साहसी पुलिसकर्मी

हालांकि, इसके भागने के बाद ही लड़की के दोस्तों ने पुलिस को 100 नंबर पर सूचना दे दी थी। जिसके बाद दरोगा अनूप कुमार ने चेकिंग करते हुए गाड़ी का नंबर पहचान लिया। इसेे देख पीछा किया तो आरोपी तेजी से भाग निकला और रॉन्ग साइड से फिर से एक्सप्रेसवे की तरफ आने लगा। उसी समय पुलिस ने घेराबंदी की तो कार डिवाइडर से टकरा गई। जिसके बाद कार से उतरकर आरोपी भागने लगा। जिसका पीछा करके पुलिस ने उसे दबोच लिया। इस केस में दरोगा अनूप सिंह और दूसरी तरफ से दरोगा गुरविंदर सिंह की भूमिका काफी सराहनीय रही। जिसकी बदौलत एक बड़ी घटना टल गई।

सुनसान स्थान पर ले जाकर अश्लील हरकत करने के इरादे से ले गया था आरोपी

आरोपी आशु ने पूछताछ में बताया कि नशे में होने की वजह से लड़की को वह अपनी हवस का शिकार बनाना चाहता था। इसके लिए वह कार समेत उसे किसी सुनसान स्थान पर ले जाने की फिराक में था। इस बारे में जाते समय जब कई बार लड़की ने विरोध किया और कार से उतरने की कोशिश की तब उसने उसकी सीट बेल्ट ही जबरन बांध दी थी और कार के सभी गेट लॉक कर दिए थे। उसने बताया कि कार सर्विस सेंटर में काम करते समय वह गाड़ी चलाने का एक्सपर्ट हो गया था। इसलिए वह कार तेजी से चला रहा था।

क्राइम हेल्पलाइन टिप्स : ऐसी गलती कभी न करें

  • रात में कहीं भी अगर आप अकेले कार में सफर करें या रुकें तो कार को लॉक जरूर करें।
  • हमेशा यह प्रयास करें गाड़ी को किसी सुनसान स्थान के बजाय जिस स्थान पर लोगों की आवाजाही हो वहां कार खड़ी करें
  • कार के अंदर भी रुके तो उसे लॉक कर लें और मोबाइल पर हमेशा इमरजेंसी बटन को एक्टिवेट जरूर रखें ताकी मुसीबत में अपनी लोकेशन शेयर कर सकें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *