इस बच्ची को सिखाया था Good Touch, Bad Touch ड्राइवर ने गंदे तरीके से चूमा तो मां को बताया

Ishaan : good touch bad touch Report

अब सभी स्कूलों में बच्चों को गलत तरीके से छूने के बारे में बताया जा रहा है। आप भी अपने बच्चों को इस बारे में जरूर बताएं। Good touch-Bad Touch गुड टच व बैड टच के बारे में चाहे लड़का हो या लड़की दोनों का बचपन से ही बताना जरूरी है। अगर आप बच्चे को समझाने में संकोच कर रहे हैं तो इससे आपके बच्चे को बड़ी मुश्किल हो सकती है। दिल्ली में रहने वाली 6 साल की बच्ची को उसके स्कूल में और घर पर भी इस बारे में समझाया गया था जिसकी वजह से स्कूल छोड़ने वाली बस के ड्राइवर ने बच्ची को गलत तरीके से ‘किस’ (Kiss) किया तो उसे समझ में आ गया और मम्मी-पापा को बता दिया। अब आरोपी पुलिस की गिरफ्त में है।

ये है मामला : दूसरी क्लास में पढ़ती है बच्ची, सहम कर मां से बोली अब नहीं जाऊंगी स्कूल

6 साल की बच्ची के साथ गंदी हरकत का मामला देश की राजधानी दिल्ली के कल्याणपुरी इलाके का है। बच्ची दिल्ली के एक स्कूल में दूसरी क्लास में पढ़ती है। यहां रहने वाले कुछ लोगों ने मिलकर एक प्राइवेट बस को स्कूल छोड़ने के लिए लगा रखा है। रोजाना की तरह कई बच्चे स्कूल से घर गए थे। स्कूल से लौटने के दौरान ड्राइवर ने बच्ची को गोद में उठाकर बस में बैठाया था। उसी समय ड्राइवर ने गलत तरीके से उसे चूम लिया था। इस पर बच्ची काफी सहम गई थी।  घर लौटने के बाद बच्ची ने मम्मी से कहा कि अब  वह फिर कभी स्कूल नहीं जाएगी। इससे परिजन हैरान रह गए। उन्होंने इस बारे में बच्ची से प्यार से बात करते हुए वजह पूछा तो उसने बताया कि बस ड्राइवर अंकल ने उसे बैड टच किया था।

परिजनों ने तोड़ी चुप्पी: 1098 और फिर 100 नंबर फोन कर दी शिकायत

इस बारे में पता चलने पर परिजनों ने ड्राइवर से पूछताछ की तो उसने बताया कि गोद में उठाकर बस में बैठाया था। प्यार से किस कर लिया था, यह कहकर उसने मामले को दबाने की कोशिश की। मगर 6 साल की बच्ची आसानी से प्यार से छूने और गलत तरीके से छूए जाने को समझ सकती है। इसलिए ड्राइवर के बहाने बनाने पर घरवालों ने 1098 पर चाइल्ड लाइन और फिर पुलिस को 100 नंबर पर फोन कर सूचना दी।

पुलिस ने पॉक्सो एक्ट के तहत मामला दर्ज कर ड्राइवर को किया गिरफ्तार

इस मामले में दिल्ली पुलिस ने पॉक्सो (POCSO ACT) के तहत मामला दर्ज कर िलया है। इसके साथ ही आरोपी ड्राइवर महेंद्र कुमार (45) को गिरफ्तार कर लिया। पूछताछ में उसने बताया कि उसने बच्ची को चूमा था पर उसका इरादा गलत नहीं था। इस पर पुलिस ने बच्ची के बयान के आधार पर उसे गिरफ्तार कर न्यायिक हिरासत में भेज दिया।

आप भी बच्चों को बताएं Good touch Bad touch के बारे में, KOMAL वीडियो को जरूर दिखाएं

मासूम से आपका फ्रेंडली व्यवहार उसे सेक्सुअल असॉल्ट और अब्यूज से आसानी से बचा सकता है। बच्चे के व्यवहार पर रोजाना नजर रखने और उसके हाव-भाव में आने वाले परिवर्तन के बारे में पता लगाकर समय पर अलर्ट रह सकते हैं। दरअसल, पैरंट्स बच्चों को गुड व बैड टच के बारे में बताकर उनसे समय-समय पर खेल-खेल या अन्य किसी माध्यम से जानकारी ले सकते हैं। इसके अलावा बच्चों को Komal (you-tube) वीडियो को देख सकते हैं।

ऐसे बताएं बैड टच Bad touch

  • बिना झिझक सबसे पहले बच्चों को उनके प्राइवेट पार्ट्स के बारे में समझाएं
  • यह भी बताएं कि कोई गलत तरीके से गोद में उठाए और किस या टच करे तो तुरंत विरोध करें
  • यह बताएं कि पैरंट्स के अलावा कोई उस जगह पर टच करें तो दूर हो जाएं
  • कोई भी उन्हें किसी तरह की फोटो या विडियो दिखाएं तो बच्चे इस बारे में तुरंत पैरेंट्स को बताएं
  • बार-बार कोई बच्चे को किस करने की कोशिश करें तब भी पैरंट्स को बताएं
  • कोई भी किसी बहाने कपड़े उतारने को कहे तब तुरंत इसकी जानकारी दें
     
  • क्या करें पैरंट्स
  •  खेल-खेल में बच्चों को बैड टच के बारे में समझाएं
  • बच्चे कभी भी कोई बात बताएं तब उस पर भरोसा करें
  • बच्चे कुछ बताएं तो ज्यादा सवाल न करें बल्कि नजर रखें व जांच करें
  • उनसे हमेशा फ्रेंडली बात करें और उसी तरह से समझाएं भी
  • उनकी दिनभर की गतिविधियों के बारे में जरूर पूछे

1098 पर कॉल लें मदद

चाइल्ड हेल्पलाइन नंबर 1098 पर कॉल कर भी लोग जानकारी ले सकते हैं। इसके अलावा किसी को अगर बच्चे से कोई बात पता करने में झिझक हो तो वह चाइल्ड लाइन के काउंसलर से भी मदद ले सकता है। काउंसलिंग टीम में मेल व फीमेल दोनों होती हैं। इसके अलावा यह टीम पुलिस से कंप्लेंट करने के साथ लीगल जानकारी भी दे देती है

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *