Facebook पर आप भी Emotional status डालती हैं, तो हो सकती हैं Sextortion की शिकार!

Social Media पर इमोशन वाले स्टेटस डालने वाली 15-24 साल की 66 फीसदी लड़कियां हैरसमेंट की शिकार : रिपोर्ट

सोशल मीडिया पर इमोशनल स्टेटस शेयर करने वाली ज्यादातर लड़कियां साइबर क्राइम का शिकार बन रही हैं। ऐसे स्टेटस वाली लड़कियों को टारगेट कर साइबर क्रिमिनल पहले उसे लाइक या शेयर करते और फिर दोस्ती कर ऑनलाइन हैरसमेंट कर रहे हैं। यही नहीं, खासकर ऐसी लड़कियों से मिलने के लिए राजी करके उनका फिजिकली भी उत्पीड़न किया जा रहा है। इंडियन साइबर आर्मी नामक संस्था ने देशभर के 749 केस की स्टडी कर दावा किया है कि 15 से 24 साल आयु ग्रुप की 66 फीसदी लड़कियां ऑनलाइन हैरसमेंट का शिकार हो रहीं हैं। इनमें से 43 फीसदी मामलों में तो फिजिकली भी असॉल्ट किया गया है। 


11-14 साल की लड़कियां भी हो रही हैं अब्यूज : रिपोर्ट

दिल्ली-एनसीआर की संस्था इंडियन साइबर आर्मी के चेयरमैन व साइबर एक्सपर्ट किसलय चौधरी ने अपनी स्टडी रिपोर्ट को लेकर बताया कि ऑनलाइन चैटिंग या सोशल मीडिया के जरिए 11 से 14 साल की लड़कियां भी अब्यूज हो रहीं हैं। उन्होंने बताया कि जनवरी 2017 से जुलाई 2018 के बीच में आए विभिन्न केसों की स्टडी करने पर पता चला कि 11 से 14 साल के बीच वाली लड़िकयों में 62 फीसदी से ऑनलाइन गाली-गलौज की गई। इनमें से ज्यादातर के साथ वॉटसएप पर चैट के दौरान ऐसा किया गया। उन्होंने बताया कि 15 से 19 साल के बीच की लड़िकयों अन्य ग्रुप की तुलना में 10 गुना ज्यादा धमकी मिलने की शिकार हो रही हैं। इस रिपोर्ट को देखकर हाल में ही यूएनडीपी इंडिया ने भी ऑनलाइन हैरसमेंट को लेकर ट्वीट किया है।

7 स्टेप में जानें कैसे इमोशनल स्टेटस को देखकर फंसाते हैं जाल में

स्टेप-1 कम आयु :

फेसबुक व इंस्टाग्राम पर फेक आईडी के जरिए अकाउंट बनाने वाले जालसाज सबसे पहले 14 से 25 साल की लड़कियों के प्रोफाइल को टारगेट बनाते हैं।

स्टेप-2 लाइक व शेयर :

फेसबुक पर लड़कियों के पोस्ट किए इमोशनल स्टेटस को लाइक करेंगे। उसे शेयर भी करते हैं। ऐसे ही पुराने पोस्ट तक जाकर उसे भी लाइव व शेयर करते हैं।

स्टेप-3 खुद का इमोशनल स्टेटस :

ऐसे युवक अपने फेसबुक या अन्य सोशल मीडिया प्रोफाइल पर भी इमोशनल स्टेटस पोस्ट करते हैं ताकी लड़की जब लाइव या शेयर करने वाले प्रोफाइल चेक करे तो इंप्रेस हो।

स्टेप-4 फ्रेंड रिक्वेस्ट :

युवक के बार-बार किसी पोस्ट को लाइक या शेयर करने पर कोई लड़की आपत्ति न जताए तो फिर उसे फ्रेंड रिक्वेस्ट भेज देते हैं। ऐसे में लड़की भी इमोशनल जाल में फंसकर रिक्वेस्ट स्वीकार लेती है।

स्टेप-5 चैटिंग फिर फोन नंबर :

जैसे ही कोई लड़की किसी अजनबी युवक को भी दोस्त समझकर फ्रेंड रिक्वेस्ट स्वीकार कर लेती है तब जालसाज उसे चैटिंग करने लगते हैं। इसमें भी इमोशनल व प्यार की बाते करेंगे। इसके बाद चैट करते हुए ही फोन नंबर ले लेंगे।

स्टेप-6 वॉट्सएप से फोटो फिर ब्लैकमेल :

आखिरकार लड़की का फोन नंबर लेकर युवक उससे वॉट्सएप पर चैट शुरू कर देता है। फिर धीरे-धीरे इमोशनल बात करते हुए उसकी पर्सनल फोटो या वीडियो ले लेते हैं या फिर उसकी फोटो को सेव और फिर मॉर्फ करके ब्लैकमेल करने लगते हैं।

स्टेप -7 मीटिंग करके ब्लैकमेलिंग :

कई बार युवक अपनी फेसबुक फ्रेंड के परिवार की डिटेल लेकर उसके बर्थडे या अन्य किसी खास दिन मीटिंग के लिए बुला लेते हैं। उसी दौरान उससे झांसे में लेकर उसके साथ ली हुई फोटो या वीडियो के जरिए भी ब्लैकमेलिंग शुरू कर देते हैं।

केस स्टडी :




‘अधूरी मोहब्बत’ नाम से आईडी बना दिल्ली की लड़की से दोस्ती की, लिव-इन में रहा, लड़की प्रेग्नेंट हुई तो भाग गया

पिछले महीने दिल्ली के शकरपुर थाना एरिया में 24 वर्षीय एक युवती को फेसबुक फ्रेंड ने इमोशनल जाल में फंसाकर धोखा दिया। युवती अक्सर अपने फेसबुक पर इमोशनल स्टेटस लगाती थी। ‘अधूरी मोहब्बत’ नाम से फर्जी प्रोफाइल बनाने वाले बिहार के एक युवक ने उसके पोस्ट को रोज लाइक करने लगा। इसके बाद लड़की को फ्रेंड रिक्वेस्ट भेज दोस्ती कर ली। लड़की शकरपुर में अकेले रहते हुए एक कंपनी में पार्ट टाइम जॉब करती है। इसलिए फ्री टाइम में वह भी युवक से चैट करने लगी थी। अपनी इमोशनल बातों में फंसाकर युवक उससे मिलने दिल्ली भी आ गया। इसके बाद दोनों एक साथ लिव-इन में रहने लगे। युवक ने शादी करने का झांसा देकर रिलेशन भी बनाया। लड़की जब प्रेग्नेंट हो गई तब युवक अचानक कमरा छोड़कर भाग गया। अब युवती उसके खिलाफ शिकायत दर्ज कराने के लिए दिल्ली में पुलिस थाने से लेकर महिला सेल से मदद मांग रही है।

केस-2  युवती से दोस्ती की फिर वॉट्सएप से फोटो मंगाकर पोर्न साइट पर डालने की धमकी दे कर रहा ब्लैकमेल

दिल्ली के ही न्यू अशोक नगर थाना एरिया में रहने वाली 23 वर्षीय युवती को भी ऐसे ही एक युवक ने अपनी जाल में फंसा लिया। युवक ने फेसबुक के जरिए ही पहले युवती के फोटो व पोस्ट को लाइक व कमेंट करके फ्रेंड रिक्वेस्ट भेज दी। इसके बाद जब दोस्ती हो गई तो चैट करते हुए फोन नंबर लिया और वॉट्सएप पर वीडियो कॉलिंग के जरिए रिकॉर्डिंग कर ली। अब फोटो व वीडियो में एडिटिंग करके उसे अश्लील बनाकर पोर्न वेबसाइट पर डालने की धमकी दे रहा है। इसके एवज में उसे बार-बार किसी होटल में मिलने के लिए दबाव बना रहा है। इस संबंध में लड़की ने साइबर सेल को लिखित शिकायत दी है।



केस-3 पति से विवाद होने पर परेशान होकर इमोशनल स्टेटस डाला, युवक ने दोस्ती कर ब्लैकमेलिंग शुरू की


दिल्ली से सटे में रहने वाली नविवाहिता की कुछ महीने बाद ही पति से अनबन होने लगी तब वह फेसबुक पर इमोशनल पोस्ट डालने लगी। इसी का फायदा उठाकर जयपुर के एक युवक ने उससे दोस्ती कर ली। इमोशनल बातें कर वह युवती को सपोर्ट करने लगा। इस पर नवविवाहिता ने उसे अपनी निजी जिंदगी के बारे में सबकुछ बता दिया। यही नहीं, अपनी फोटो भी उसे भेजने लगी। अब युवक नविवाहिता से मिलने को लेकर दबाव बनाने के साथ महिला के पति को भी ब्लैकमेल कर रहा है। युवती के बर्थडे पर कभी गुलदस्ते तो कभी कोई सामान भिजवाकर परेशान कर रहा है। इस बारे में पीड़िता ने नोएडा पुलिस में शिकायत की है।


इससे बचने के लिए क्या करें

1- अपने इमोशन को सोशल मीडिया पर शेयर करने से बचें क्योंकि इससे ही आप जालसाजों के निशाने पर आते हैं।

2- फेसबुक पर सेटिंग में अपनी एक्टिविटी को पब्लिक करने की बजाय उसे स्पेसिफिक फ्रेंड्स के लिए सेलेक्ट करें।
3- अपनी पर्सनल फोटो को प्रोफाइल में डालने से बचें और चाहें तो बर्थ डेट को भी छुपा लें।
4- अपनी हर एक्टिविटी व लोकेशन को सोशल मीडिया पर शेयर करने से बचें, इसके बजाय खास लोगों को भेजें।
5- अगर कभी भी जालसाजों के जाल में फंस जाएं तो ब्लैकमेल होने के बजाय तुरंत शिकायत दर्ज कराएं

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *