इस इंजीनियर ने जिगरी दोस्त की बच्ची से की ऐसी हैवानियत, फांसी की सजा भी पड़ जाए कम

पिता को पता चला जिगरी दोस्त ने ही मेरी बेटी से एक साल तक किया है सेक्सुअली असॉल्ट तो बच्ची से तब तक आंख नहीं मिला पाया जब तक गिरफ्तार नहीं करा दिया…

एक बच्ची जिसकी उम्र महज 11 साल है। 6वीं क्लास में पढ़ती है। परिवार दिल्ली से सटे नोएडा की पॉश सोसायटी में रहता है। बच्ची के पिता भी दिल्ली की एक कंपनी में सीनियर मैनेजर हैं। पिता का एक दोस्त एनटीपीसी जैसी कंपनी में इंजीनियर है। दोनों में अच्छी दोस्ती है। दोनों का परिवार एक दूसरे के घर आता जाता रहता है। इंजीनियर का भी एक बेटा 12 साल का है। ऐसे में वह दोस्त की बेटी को अपने बेटे के साथ हर वीकेंड पर पढ़ाने के लिए घर बुला लेेता है। ऐसे में कोई भी दोस्त अपनी बच्ची को भेज देगा। इस पिता ने भी वही किया। बेटी को भरोसेमंद दोस्त के घर भेज दिया। मगर वो दोस्त असल में हैवान निकला। उसने बच्ची को एक कमरे में ले जाकर एक या दो नहीं बल्कि पूरे एक साल तक असॉल्ट किया। उसके साथ अश्लील हरकत की।

टीचर ने गुड टच व बैड टच के बारे में बताकर पूछा तब सामने आई ये घटना

बच्ची को असॉल्ट करने का आरोपी शख्स अखिल (45) नोएडा के एनटीपीसी में सीनियर इंजीनियर है। पीड़ित बच्ची की मां की शिकायत पर नोएडा पुलिस ने पॉक्सो एक्ट व दुष्कर्म में मामला दर्ज कर आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है। आरोपी की हरकत से बच्ची पिछले काफी समय से सहमी हुई रहने लगी थी। इस बारे में 16 मई को स्कूल टीचर ने गुड टच व बैड टच के बारे में समझाते हुए बच्ची से बात की तब उसने पूरी जानकारी दी। इसे जानकर स्कूल टीचर दंग रह गईं और फिर परिजनों को बुलाकर बच्ची की आपबीती सुनाई।

पत्नी से कहता था तुम पढ़ाई में बहुत डिस्टर्ब करती हो, यह कहकर बच्ची को कमरे में बंद कर पढ़ाता था

आरोपी अखिल गुप्ता इस घटना को अपने परिवार में पत्नी और बच्चे के रहते हुए ही अंजाम दे देता था। आरोपी के परिवार में उसकी पत्नी, 12 साल का बेटा और 18 साल की बेटी भी है। मगर इन सबके बावजूद पहले वह घर में कहीं पढ़ाता था और पिर बेटी को कोई न कोई सामान मंगाने के बहाने बाहर भेज देता था। इसके बाद पत्नी से कहता था कि तुम बहुत डिस्टर्ब करती हो। यह कहकर बच्ची को एक कमरे में ले जाकर दरवाजा लॉक कर देता था। इसके बाद उसका बुरी तरह से यौन शोषण करता था।

ऐसी दरिंदगी जिसे जानकर आप सिहर जाएंगे : पहले गाल पर किस करता था फिर कपड़े हटाकर प्राइवेट पार्ट टच करने लगा

16 मई को स्कूल में टीचर ने जब बच्ची के साथ होने वाली घटना के बारे में जान गईं तब इस बारे में पैरेंट्स को स्कूल बुलाकर समझाया गया। स्कूल से लौटने के बाद बच्ची तुरंत सो गई। इसके बाद शाम में उठी तो उसकी मां ने प्यार से बात करते हुए परेशानी का कारण पूछा। इस पर बच्ची ने बताया कि वो अंंकल मुझे पढ़ाने के बहाने कमरे में ले जाकर बै़ड टच करते हैं।

मां को बताई मासूम बच्ची की आपबीती :

वो अंकल मुझे पहले गाल पर किस करते थे। मुझे लगा कि प्यार कर रहे हैं। कुछ नहीं बोला। इसके बाद उनकी हरकतें बढने लगी। वो मेरे होठों को किस करने लगा। कुछ कहते थे तो गले को खूब जोर से पकड़ लेता था। सिसककर चुप हो जाते थे। मैं चीखती थी। मना करती थी। पर वह नहीं छोड़ता था। फिर कभी छाती पर हाथ मारता था। वहां किस भी करने लगा था। वहां पर चोट के निशान भी बन जाते थे। मगर नहीं छोड़ता था। कभी किसी दिन मेरे ऊपर लेट जाता था। अपनी टी-शर्ट भी ऊपर कर लेता था। मेरे प्राइवेट पार्ट भी टच करने लगता था। दर्द होने पर चीखती तो मुंह दबा देता था। धीरे-धीरे हरकतें और बढ़ने लगीं और हर बार घर पर या किसी से भी कुछ बताने पर पहले से ज्यादा बुरा करने की धमकी देता रहता था।

शराब पीकर भी की गंदी हरकत, 15 अगस्त पर कार्यक्रम तो कभी मां जागरण के दौरान भी किया परेशान

बच्ची ने बताया कि एक बार तो वो गंदे अंकल शराब पीकर मुझे पढ़ाने के बहाने घर में ले आए। अपना मुंह सुंघाकर पूछने लगा कि बदबू आ रही है। कुछ नहीं बोलने पर कहता था कि बस ये आखिरी बार है। इसके बाद फिर से वही गंदी हरकतें करने लगता था। जिससे मेरे शरीर पर कई जगह निशान भी पड़ जाते थे। एक दिन घर के पास माता जागरण था तो भी वह बहाने से ले गया और फिर गलत तरीके से पूरे शरीर को टच किया। अपने शरीर को भी जबरन मेरे हाथों से टच कराया। इस तरह उसकी हरकतों से मैं काफी सहम चुकी हैं। जीनेे की इच्छा खत्म हो गई है।

आप भी अपने बच्चों को ये टिप्स जरूर दें ताकी हर तरह से बच्चा रह सके सेफ

ऐसे बताएं बैड टच Bad touch

  • बिना झिझक सबसे पहले बच्चों को उनके प्राइवेट पार्ट्स के बारे में समझाएं
  • यह भी बताएं कि कोई गलत तरीके से गोद में उठाए और किस या टच करे तो तुरंत विरोध करें
  • यह बताएं कि पैरंट्स के अलावा कोई उस जगह पर टच करें तो दूर हो जाएं
  • कोई भी उन्हें किसी तरह की फोटो या विडियो दिखाएं तो बच्चे इस बारे में तुरंत पैरेंट्स को बताएं
  • बार-बार कोई बच्चे को किस करने की कोशिश करें तब भी पैरंट्स को बताएं
  • कोई भी किसी बहाने कपड़े उतारने को कहे तब तुरंत इसकी जानकारी देंक्या करें पैरंट्स
  • खेल-खेल में बच्चों को बैड टच के बारे में समझाएं
  • बच्चे कभी भी कोई बात बताएं तब उस पर भरोसा करें
  • बच्चे कुछ बताएं तो ज्यादा सवाल न करें बल्कि नजर रखें व जांच करें
  • उनसे हमेशा फ्रेंडली बात करें और उसी तरह से समझाएं भी
  • उनकी दिनभर की गतिविधियों के बारे में जरूर पूछे

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *