Naxal Maoist Attack : थानेदार ने जाने से रोका फिर भी BJP विधायक निकले, 5 की मौत

#bhima #mandavi #MaoistsTargetDemocracy #Dantewada

Special report : chhattisgarh

लोकसभा चुनाव से ठीक दो दिन पहले ही छत्तीसगढ़ (chhattisgarh) में हुए नक्सली (naxal) हमले में भाजपा विधायक भीमा मांडवी (Bheema Bhima mandavi) की मौत हो गई। इनके अलावा 4 अन्य लोगों की भी मौत हो गई। बताया जा रहा है कि नक्सल प्रभावित इलाके में प्रचार को मंगलवार दोपहर 3 बजे के बाद ही बंद करने के लिए पुलिस ने निर्देश जारी कर दिया था। इसके बाद भी विधायक लोगों से मिलने के लिए निकल लिए। इसके बाद रास्ते में लगे एक मेले में अपने समर्थकों के साथ रुक गए थे। यहीं से इनकी लोकेशन और प्रचार के लिए आगे बढ़ने के बारे में पक्की सूचना मिल गई। जिसके बाद चुनाव को प्रभावित करने के लिए नक्सलियों में ब्लास्ट किया और फिर ताबड़तोड़ फायरिंग भी की। जिसमें विधायक भीमा मांडावी के अलावा इनके ड्राइवर की मौत हो गई। इनके साथ 3 सुरक्षाकर्मी भी शहीद हो गए।

दंतेवाड़ा के पास बारूदी सुरंग में किया विस्फोट, 200 मीटर दूर गिरी थी गाड़ी

छत्तीसगढ़ के नक्सल प्रभावित दंतेवाड़ा (Dantewada) जिले के सुकमा रोड पर नकुलनार के पास बारूदी सुरंग में विस्फोट किया गया था। यह विस्फोट इतना जबरदस्त था कि गाड़ी 200 मीटर दूर जा गिरी। विस्फोट के बाद ही पहले से घात लगाए बैठे नक्सलियों ने काफिले पर आधे घंटे तक फायरिंग भी की। इधर से पुलिस ने भी फायरिंग की थी। जिसमें कुल 5 लोगों की जान चली गई।

सुरक्षा में 50 पुलिसकर्मी थी, नक्सलियों के मुखबिरों ने लोकेशन किया आउट

दंतेवाड़ा के एसपी अभिषेक पल्लव ने बताया कि उस एरिया में चुनाव प्रचार के लिए 3 बजे तक का समय दिया गया था। इस दौरान सुरक्षा के लिए लोकल 50 पुलिसकर्मियों की फोर्स भी दी गई थी। विधायक भीमा मांडावी दोपहर 3 बजे तक दंतेवाड़ा के बचेली गांव के पास ही थे। उसके आगे चुनाव प्रचार करने को लेकर लोकल थाना प्रभारी ने विधायक को साफतौर पर मना कर दिया था। इसके बाद भी वे नहीं माने और पहले पास में लगे एक मेले में पहुंच गए थे। यहां मौजूद कुछ मुखबिरों ने ही उनकी बातचीत सुन ली और लोकेशन के बारे में बता दिया था। जिसके बाद साजिश के तहत बारूदी सुरंग बनाकर यह हमला कर दिया गया।

PM Narendra Modi ने भी घटना की निंदा की, दुख जताया

https://twitter.com/narendramodi/status/1115607178771984384

छत्तीसगढ़ में हुए हमले के बाद पीएम नरेंद्र मोदी ने तुरंत घटना की निंदा की। उन्होंने ट्वीट करते हुए शहीद जवानों के परिवार के प्रति संवेदना व्यक्त की। ट्वीट में लिखा कि ‘छत्तीसगढ़ में हुए नक्सली हमले की कड़ी निंदा करता हूं। इस हमले में शहीद जवानों के परिवार के साथ मेरी पूरी संवेदना है और शहीदों का बलिदान व्यर्थ नहीं जाएगा।’

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *